महंत नृत्यगोपाल दास ने धर्म रक्षा संघ द्वारा बनवाई गई रजत शिला का किया पूजन




-ब्रज से अयोध्या तक एक बार फिर से वातावरण होगा राम मय




प्रमेन्द्र अस्थाना
वृंदावन/मथुरा (उत्तर प्रदेश)
धर्म रक्षा संघ के तत्वावधान में शुक्रवार को केशव नगर स्थित नारायण आश्रम, जानकी वल्लभ मंदिर में श्री राम मंदिर तीर्थ क्षत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्यगोपाल दास महाराज के कर कमलों द्वारा रजत शिला का पूजन पूरे विधि विधान के साथ किया गया।
नृत्यगोपाल दास महाराज ने कहा कि धर्म रक्षा संघ द्वारा जो रजत शिला तैयार की गई है, इस पबित्र शिला का पूजन सभी ब्रजवासी और राम भक्त करेंगे फिर इस रजत शिला को अयोध्या में बनने वाले भव्य और दिव्य राम मंदिर की नींव में स्थान दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि राम मंदिर के प्रति ब्रजवासियों का उत्साह और उमंग देखकर उन्हें सुखद अनुभूति हो रही है। रजत शिला पूजन के माध्यम से एक बार फिर से संपूर्ण वातावरण राम मय हो जाएगा।
 
धर्म रक्षा संघ के राष्ट्रीय संयोजक आचार्य बद्रीश ने कहा कि पहले भी राम मंदिर आन्दोलन के समय राम भक्तों ने रामशिला का पूजन किया था, अब राम मंदिर निर्माण की सभी बाधाओं से मुक्ति के बाद राम भक्तों और ब्रजवासियों के हृदय में अत्यंत हर्ष और उमंग का वातावरण बन रहा है। बताया कि राम भक्तों और ब्रजवासियों की इसी भक्ति को मूर्त रूप प्रदान करने के लिए इस रजत शिला को अयोध्या पहुंचाया जाएगा। 
महंत मोहिनी शरण ने कहा कि ब्रजवासी संतो के द्वारा पूजित रजत शिला अयोध्या के श्री राम मंदिर में स्थान प्राप्त कर ब्रज वासियों की भावना को एवं राम के प्रति प्रेम को प्रदर्शित करेगी। संघ के अध्यक्ष सौरभ गौड़ ने कहा कि रजत शिला का पूजन प्रत्येक ब्रजवासी कर पाएं ऐसी व्यवस्था की जा रही है। इस रजत शिला को संपूर्ण ब्रजमंडल में पूजा कराने के बाद यहां से अयोध्या के रास्ते में पड़ने वाले सभी प्रमुख स्थानों पर भी इसकी पूजा की जाएगी। सभी साधु-संतों भक्तों और धर्म रक्षा संघ के पदाधिकारियों ने रजत शिला का पूजन किया।
कार्यक्रम में श्रीहरिदासीय संप्रदाय के संत महामंडलेश्वर स्वामी राधाप्रसाद देव ने महंत नृत्य गोपाल दास को पटका उढ़ा कर और माल्यार्पण कर सम्मानित किया। कार्यक्रम संयोजक कार्ष्णि नागेंद्र महाराज ने आभार जताया।
ये रहे मौजूद
जगदीश शर्मा गुरुजी, श्रीदास प्रजापति, गोपेश गोस्वामी, श्यामसुंदर गौतम, मृदुलकांत शास्त्री, आरके पांडे, रामनिहोर त्रिपाठी, विष्णु पाठक, भुवनेश्वर शर्मा, तुलसी स्वामी, रविकांत गौतम, भगवानदास चौधरी, रमन बिहारी गौतम, अश्विनी मिश्रा, विनय कृष्ण चतुर्वेदी, किशोर पचौरी, शशांक शर्मा, विष्णुकांत शर्मा आदि।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने