पोटियाडीह और जवरगांव के स्वसहायता समूह की महिलाएं भी दे रही प्रतिकूल समय में योगदान


 कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए सतत् तैयार कर रहीं मास्क 

 

 अब तक 550 मास्क बनाकर वितरित जा चुके

धमतरी ।वैश्विक आपातकाल का पर्याय बन चुके कोरोना वायरस को रोकने जहां एक ओर शासन प्रशासन ने पूरी ताकत झोंक दी है, वहीं जिले के धमतरी विकासखंड के ग्राम पोटियाडीह और जवरगांव के स्वसहायता समूहों की महिलाएं भी इससे लड़ने में अभूतपूर्व योगदान दे रही हैं और अन्य समूहों के लिए प्रेरणस्रोत बन चुकी हैं।
      कलेक्टर  रजत बंसल के मार्गदर्शन से प्रेरित होकर ग्राम पोटियाडीह के वैष्णवी स्वसहायता की दीदी पिंगला देवांगन और जवरगांव के अन्नपूर्णा एवं जय मां गायत्री महिला स्व सहायता समूह की दीदी संतोषी हिरवानी, टामिन साहू सहित अन्य महिलाओं के द्वारा हथकरघा एवं खादी कपड़े से घर पर ही मास्क तैयार किए जा रहे हैं। जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी  नम्रता गांधी ने बताया कि इन स्वसहायता समूहों के द्वारा अब तक 550 नग मास्क तैयार किए जा चुके हैं, जिनका वितरण जनपद पंचायत धमतरी अंतर्गत आने वाले पंचायत सचिव, रोजगार सहायक एवं अन्य कार्यालयीन कर्मचारियों, जिला पंचायत, कलेक्ट्रेट के कर्मचारियों, रेडक्रॉस सोसाइटी के वालिंटियर्स सहित वृद्धाश्रमों में मात्र 10 से 15 रुपए की न्यूनतम दर पर वितरित किए जा रहे हैं, जो कि सिर्फ मास्क की निर्माण लागत मात्र है। 
 
वही उक्त मास्क की खासियत यह है कि यह धोने तथा पुनः उपयोग में लाने योग्य हैं। मास्क के विक्रय से इन समूहों को अब तक लगभग 7500 रुपए की आमदनी एक ही दिन में प्राप्त हो चुकी है। मास्क की निरंतर मांग से समूह की महिलाओं को प्रतिकूल समय में आमदनी का बेहतर जरिया मिल गया है। इस तरह इन स्व सहायता समूहों की महिलाएं भी खतरनाक वायरस से आमजनों के बचाव के लिए अपनी भूमिका निभा रही है।
 

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने