बाहर से आने वाले लोगों के लिए गांवों के सामुदायिक भवनों में की जा रही ठहरने की व्यवस्था


नोवल कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए सब एकजुट

 

संबंधित ग्राम पंचायत और ग्रामीणों द्वारा 14 दिनों तक की जा रही खाने-पीने की व्यवस्था


धमतरी।नोवल कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए देश, प्रदेश सहित गांव के लोग लाॅकडाउन में सहयोग कर रहे हैं। इसी कड़ी में जिले के कुछ ग्राम पंचायतों को पूरी तरह से लाॅकडाउन कर दिया गया है। इस दौरान गांव से किसी भी व्यक्ति को बाहर जाने पर प्रतिबंध किया गया है और बाहर से गांव में आने पर भी प्रतिबंध लगाया गया है। अति आवश्यक कार्य होने अथवा बाहर जाकर घर लौटने वाले लोगों को 14 दिनों तक आईसोलेशन में रखने के लिए जिले के ग्राम पंचायतों में बने सामुदायिक भवनों का उपयोग किया जा रहा है।

इसके लिए आइसोलेशन प्रैक्टिस भी की जा रही। आईसोलेशन के दौरान वहां ठहरने वालों के लिए खाने-पीने और अन्य व्यवस्था संबंधित ग्राम पंचायत एवं ग्रामीणों के सहयोग से की जा रही है। आईसोलेशन अवधि के दौरान चिकित्सा दल द्वारा नियमित उनकी स्वास्थ्य जांच भी की जा रही है।

मुख्य कार्यपालन अधिकारी, जनपद पंचायत धमतरी अमित दुबे से मिली जानकारी के मुताबिक जिले के आदर्श ग्राम पंचायत डोमा के साहू भवन में पूर्ण लॉकडाउन के दौरान ग्राम पंचायत एवं सरपंच नारायण बंजारे, जिला नवरत्न स्वछता समिति के मोतीलाल नागरची, उप सरपंच श्रीमती दिव्या ध्रुव, ग्राम प्रमुख श्री बृजभान साहू, कोटवार सुरेश मानिकपुरी के सहयोग से साहू भवन मे बाहर से आने वालों के लिए बिस्तर की व्यवस्था की गई है। इसमें उप स्वास्थ्य केन्द्र और शिक्षा विभाग का पूरी तरह सहयोग कर रहा है। इसी तरह जिले के शुक्लभाटा, सिंगपुर, कलारतराई, गंगरेल, गुजरा,जुगदेही ,शकरवारा , सहित विभिन्न ग्राम पंचायत पूर्ण लॉकडाउन है।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने