ईट और खुद को बारिश से बचाने ढका तिरपाल,दम घुटने से मालिक और मजदूर की मौत

 

अर्जुनी थाना क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम भोयना की घटना


भूपेंद्र साहू,ब्यूरो 
धमतरी। अर्जुनी थाना क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम भोयना में दर्दनाक हादसा हुआ है। ईट भट्ठा को बारिश से बचाने चढ़े मालिक और मजदूर बारिश के दौरान खुद को बचाने के लिए तिरपाल से ढक लिया जिससे उनकी दम घुटने से मौत हो गई ।पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार मथुराडीह मोड़ के पास ग्राम भोयना निवासी दिलीप चक्रधारी गुरुवार की शाम अपने ईट भट्ठा में मजदूर रघुनाथ गौड़ के साथ कार्य कर रहा था ।तभी अचानक बारिश शुरू होने लगी ईट भट्ठा को बारिश से बचाने के लिए दोनों भट्ठा के ऊपर तिरपाल लेकर चढ़े।
 
 इसी दौरान बारिश तेज हो गई ।खुद को बारिश से बचाने के लिए भट्ठा के ऊपर बने गड्ढा में दोनों बैठ गए। इस बीच नीचे से जो आग लगी थी उसका धुंआ भी आने लगा जिससेदम घुटने से मौत हो गई ।अर्जुनी थाना प्रभारी उमेंद्र टंडन ने बताया कि गुरुवार की शाम दिलीप चक्रधारी और रघुनाथ दोनों चढ़े हुए थे गड्ढे में बैठे थे तभी तेज बारिश हो गई । रात भर जब नहीं पहुंचे तो सुबह परिजनों ने पता तलाश की और ऊपर चढ़कर देखा तो दिलीप रघुनाथ की बैठे स्थिति में ही मौत हो चुकी थी ।प्रथम दृष्टया में मौत का कारण दम घुटने से होना प्रतीत हो रहा है।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने