जिले में 250 बिस्तर की तैयारी रखने तथा आपातकालीन स्थिति से निबटने के कलेक्टर ने दिए निर्देश


गिरदावरी प्रतिवेदन में एकरूपता लाने व गुणवत्तापूर्ण वर्मी कम्पोस्ट तैयार करने के  निर्देश

 \


धमतरी 24 अगस्त 2020।कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य ने शाम राजस्व अधिकारियों व अन्य विभागीय अधिकारियों की वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक लेकर विभिन्न कार्यों की समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने गिरदावरी रिपोर्ट आगामी 20 सितम्बर से पहले शत-प्रतिशत तैयार करने तथा आंकड़ों में अंतर न आए, इसके लिए संबंधित विभागों के अधिकारियों को परस्पर समन्वय स्थापित करने के निर्देश दिए। साथ ही गोधन न्याय योजना के तहत गौठानों में तैयार किए जा रहे वर्मी कम्पोस्ट गुणवत्तापूर्ण हो, इसके लिए कृषि विभाग के अधिकारी व नोडल अधिकारियों को लगातार गौठानों का दौरा कर कम्पोस्ट निर्माण कार्य का निरीक्षण करने के निर्देश दिए।

कलेक्टोरेट सभाकक्ष में  शाम पांच बजे आयोजित वी.सी. में कलेक्टर ने कहा कि गोबर खरीदी तथा गिरदावरी दोनों कार्य शासन की पहली प्राथमिकता सूची में है। इन कार्यों जुड़े अधिकारी-कर्मचारी इसे गम्भीरता से लें। उन्होंने कहा कि इन दोनों की कार्यों में डाटा एण्ट्री महत्वपूर्ण कड़ी है, जिसमें सभी प्रकार के आंकड़े बेमेल ना हों। गिरदावरी की रिपोर्टिंग में भी पटवारियों को फील्ड में जाकर ही प्रतिवेदन तैयार करें और इसकी लगातार माॅनीटरिंग अनुविभागीय अधिकारियों अनिवार्यतः करंे। पटवारी अपने हल्का मुख्यालय में निर्धारित तिथि में मौजूद रहें, इस पर भी निगाह रखने के निर्देश कलेक्टर ने सभी एसडीएम को दिए। इसके अलावा गोबर खरीदी का भुगतान हितग्राहियों को निर्धारित समय पर करने व सभी पंजियों का संधारण अनिवार्य रूप से करने के निर्देश कलेक्टर ने दिए। उन्होंने यह स्पष्ट किया कि भले ही गोबर की खरीदी कम हो, लेकिन किसी भी सूरत में वर्मी कम्पोस्ट की गुणवत्ता में गिरावट नहीं आनी चाहिए।


भीड़ वाले स्थानों में काम करने वालों व मैदानी अमलों को एन-95 मास्क उपयोग करने की दी हिदायत
बैठक में कलेक्टर ने बताया कि जिले के व्यावसायिक प्रतिष्ठानों के संचालन समय में वृद्धि कर दी गई है साथ ही जिम को खोलने की सशर्त अनुमति दी गई है। इसके दृष्टिगत करते हुए आने वाले समय में और भी अधिक सतर्कता बरतने व कोरोना के संक्रमण से बचने के लिए यथासंभव उपायों को नजरअंदाज नहीं करने की हिदायत भी दी। भीड़भाड़ वाली जगहों में जाने वाले मैदानी अधिकारी-कर्मचारियों को एन-95 मास्क अनिवार्य रूप से उपयोग करने व प्रत्येक कार्य के बाद हाथों को सैनिटाइज करने के लिए कहा। उन्होंने कोविड-19 के लगातार बढ़ रही मरीजों की संख्या को देखते हुए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को जिले में 250 बिस्तर की तैयारी रखने तथा आपातकालीन स्थिति से निबटने के लिए पर्याप्त संख्या में आॅक्सीजन सिलेंडर व वेंटिलेटर की उपलब्धता सुनिश्चित करने के भी निर्देश दिए। बैठक में जिला पंचायत की सी.ई.ओ. श्रीमती नम्रता गांधी, अपर कलेक्टर श्री दिलीप अग्रवाल के अलावा विभिन्न विभाग के अधिकारी व अनुविभाग व ब्लाॅक स्तर के अधिकारी वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से उपस्थित रहे।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने