लाॅकडाउन में शिक्षा केबल कनेक्शन के माध्यम से चलायी जा रही है क्लास

विकासखंड जशपुर में 3200 से अधिक बच्चों को केबल कनेक्शन के माध्यम से दी जा रही है शिक्षा

हाई एवं हायर सेकेण्डरी के छात्र-छात्राओ को इससे जोड़ने हेतु किया जा रहा प्रयास

जशपुरनगर कोरोना महामारी के कारण लाॅकडाउन की विषम परिस्थिति में जहां स्कुल-काॅलेज बंद है एवं बच्चों के सामने अपनी पढ़ाई जारी रखने की कठिन परिस्थिति बनी हुई है। ऐसी परिस्थिति में जिला प्रशासन जशपुर द्वारा पढ़ाई के क्षेत्र में विविध नवाचार किया गया केबल कनेक्शन के माध्यम से कक्षा को बच्चों के घरों तक पहंुचाया गयाइन सभी के लिए जिला प्रशासन द्वारा लगातार कार्य किया गया एवं शिक्षा के क्षेत्र में अनेक आयाम हासिल किए गए। जिला कलेक्टर जशपुर  कावरे एवं जिला शिक्षा अधिकारी एन. कुजूर सहित शिक्षा विभाग के सभी अधिकारियों ने इस कार्य मे अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया।

कोविड-19 से लड़ते हुए शिक्षा की ज्योति को मद्धिम नहीं होने देने एवं स्कूली बच्चों की पढ़ाई अनवरत जारी रखने बच्चों को शिक्षा से जोड़ा जा सके। चाहे वह प्राथमिक शालाओं के विद्यार्थियों के अध्यापन की बात होउच्च प्राथमिक शालाओं के छात्र-छात्राओ की शिक्षा को लगातार जारी रखने के बात हो या फिर हाई हायर सेकेण्डरी विद्यालयों में शिक्षा को छात्र छात्राओं तक पहुचाने की बात हो। इन सभी के लिए जिला प्रशासन द्वारा लगातार कार्य किया गया एवं शिक्षा के क्षेत्र में अनेक आयाम हासिल किए गए। 

विकास खण्ड शिक्षा अधिकारी श्री एम.जेड.यू.सिद्दीकी के नेतृत्व में जशपुर विकास खण्ड में एक नवाचार करते हुए केबल आॅपरेटर की सहायता से रिकार्डेड क्लास को प्राथमिक एंव पूर्व माध्यमिक शालाओं के बच्चों हेतु प्रारंभ किया गया।  इस कार्य के लिए जशपुर नगरपालिका क्षेत्र में सर्वप्रथम घरों एवं बच्चों का सर्वे किया गया। जिससे बच्चों की संख्या एवं केबल कनेक्शन की सही जानकारी प्राप्त कर आगे की रणनीति बनाई जा सके। उन्होंने बताया कि नगर पालिका जशपुर में शासकीयअशासकीय एवं अनुदान प्राप्त विद्यालयो के छात्र-छात्राओ की संख्या लगभग 6200 है एवं लगभग 2600 घरों में केबल कनेक्शन उपलब्ध है। इस प्रकार प्रत्येक घर में तीन बच्चों को पढ़ने आने का लक्ष्य निर्धारित किया गया एवं टेक्नीकल टीम का गठन कर योग्य शिक्षकों का निर्धारण किया गया। वर्तमान में लगभग 3200 छात्र-छात्राओं को इस नवाचार केबल कनेक्शन के माध्यम से शिक्षा से जोड़ा जा चुका है एवं अब भी आॅनलाइन कक्षाएं जशपुर विकास खण्ड से लगातार जारी है और प्राथमिकपूर्व माध्यमिकमाध्यमिक एवं उच्चतर माध्यमिक शालाओ के शिक्षको के द्वारा लगातार शिक्षा केबल के माध्यम से दी जा रही है।

जिला शिक्षा अधिकारी एन. कुजूर ने बताया कि केबल कनेक्शन से शिक्षा प्रदान करने के लिए शिक्षा विभाग द्वारा सभी संकुलो का दौरा कर बच्चों के पालकों को आॅनलाइन कक्षांओं के बारे में जानकारी दी गई। जिससे वे अपने बच्चों को नियमित समय पर टीवी के माध्यम से अपनी कक्षाएं देख सके। उन्होनें बताया कि केबल कनेक्शन के माध्यम से दी जाने वाली शिक्षा की निगरानी के लिए मानीटरिंग सिस्टम बनाया गया है जिसका जिला शिक्षाधिकारीडी.एम.सी.बी.ई.ओबी.आर.सी. सी.ए.सी. एवं शिक्षक इसका हिस्सा है। वे लोगों के घरों में जाकर निरीक्षण करते है कि बच्चें कक्षाएं नियमित रूप से अटेंड कर रहे है या नहीं। श्री कूजूर ने बताया कि आने वाले समय में हाई एवं हायर सेकेण्डरी के छात्र छात्राओ हेतु इसे प्रारंभ करने की योजना पर कार्य किया जा रहा है जिससे शेष बच्चों को भी इससे जोड़ा जा सके। उन्होनें कहा कि इस कार्य के लिए शिक्षा विभाग का पूरा अमला निरंतर प्रयासरत है। जिला शिक्षा अधिकारी के निर्देश पर विकास खण्ड कुनकुरी एवं कांसाबेल की टेक्नीकल टीम को भी इस हेतु प्रशिक्षित किया गया एवं अब कुनकुरी एवं कासाबेल में भी डिस्क की मदद से यह केबल क्लास चलायी जा रही है।  

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने