रेत माफियाओं के हौसले बुलंद ,फिर एक जिला पंचायत सदस्य पर प्राणघातक हमला


सदस्य गोविंद साहू पर हमले की सर्वत्र निंदा


धमतरी।धमतरी में रेत खदान अवैध उत्खनन भंडारण से संबंधित मामला थमने का नाम ही नहीं ले रहा है ।इस बार तो सत्ता पक्ष के ही जिला पंचायत सदस्य सभापति पर प्राणघातक हमला किया गया है ।इसके बाद से पूरे जिले में सनसनी फैल गई है ।फिलहाल पुलिस ने इस मामले में 5 लोगों को हिरासत में लिया है। जिला पंचायत सदस्य गोविंद साहू का इलाज किया जा रहा है।

  यतींद्र बंजारे गोरेगांव नगरी निवासी ने कुरुद थाना में रिपोर्ट दर्ज कराई है कि उनकी पत्नी मीना बंजारे जिला पंचायत सदस्य हैं ।16 सितंबर को जिला पंचायत में हुए बैठक के बाद जिले में अवैध रेत उत्खनन भंडारण पर निरीक्षण का निर्णय लिया गया था। जिसे देखते हुए 17  की रात जिला पंचायत अध्यक्ष कांति सोनवानी, उपाध्यक्ष निशु चंद्राकर, सदस्य तारिणी चंद्राकर ,सुमन साहू, कुसुमलता, मनोज साक्षी, मीना बंजारे, गोविंद साहू सभी निरीक्षण के लिए निकले हुए थे ।परेवाडीह डमकादिह कपालफोड़ी  का निरीक्षण कर मंदरौद मेघा नदी के किनारे  भंडारण के पास पहुंचे थे । जहां हाईवा से  रेत निकाल कर भंडारण किया जा रहा था ।तभी कुछ लोग सामने आए और उनके साथ जाती सूचक गाली देते हुए नेतागिरी करते हुए कहा और फिर ताबड़तोड़ हमला शुरू कर दिया। लात घुसा रॉड से जमकर मारपीट की गई ।गोविंद साहू पर भी हमला करते हुए कपड़े फाड़ दिए गए। जिसकी सूचना कुरुद थाना में दी गई है। इस संबंध में अध्यक्ष उपाध्यक्ष अन्य सदस्यों से संपर्क करने की कोशिश की गई लेकिन नहीं हो पाया

 इस मामले में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मनीषा ठाकुर ने बताया कि रिपोर्ट पर 5 लोगों को हिरासत में लेकर आगे की कार्रवाई की जा रही है।

 ज्ञात हो कि धमतरी जिले में रेत उत्खनन अवैध भंडारण का मामला बरसों पुराना है ।आए दिन कोई न कोई विवाद होता रहता है। पिछले कुछ महीनों पहले जिला पंचायत सदस्य खूबलाल ध्रुव पर प्राणघातक हमला किया गया था। जिसमें धमतरी जिले के सहित अन्य राज्यों के लगभग 9 लोगों को गिरफ्तार किया गया था। इसके बाद से लगातार  रेत खदान पर अधिकारियों की संलिप्तता पर उंगली उठ रही थी ।अब सत्ता पक्ष के ही गोविंद साहू जिला पंचायत सदस्य पर ऐसा हमला सोचने पर मजबूर कर रहा है ।
इस संबंध में जिला पंचायत सदस्य खूबलाल ने कहा कि पहले मेरे पर हमला किया गया अब सत्तापक्ष के गोविंद साहू के साथ ऐसी घटना निंदनीय है। सता पक्ष के साथी के साथ इस प्रकार की घटना घटित हो रही है ।स्पष्ट है कि जिले में अधिकारी की संलिप्तता से अवैध उत्खनन और भंडारण जारी है।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने