वनकाष्ठागार के श्रमिकों ने इंटक के प्रदेशाध्यक्ष को बताई अपनी पीड़ा



श्रमिकों ने मजदूरी भुगतान के संबंध में सौंपा ज्ञापन

     
धमतरी। नगरी वनकाष्ठागार में  कार्यरत श्रमिकों ने राष्ट्रीय मजदूर युवा कांग्रेस छत्तीसगढ़ के प्रदेशाध्यक्ष चन्द्रेशसिंह ठाकुर, उपाध्यक्ष शैलेन्द्र लाहौरिया को ज्ञापन सौंपते हुए अनुसूची (ख) अनुसूचित नियोजन भाग-एक के  (45) नियोजन के तहत दैनिक मजदूरी दर से पारिश्रमिक भुगतान करवाने की मांग रखे हैं।

         वनकाष्ठागार में विगत कई वर्षों से काम कर रहे श्रमिकों के ने बताया कि शासन द्वारा उन्हें जाॅब दर पर पूर्व में 340 ₹ की दर से पारिश्रमिक भुगतान किया जा रहा था किन्तु उसे अनुसूची (ख) भाग-एक के 45 से वंचित करके अनुसूची (ग) केम्पा विभाग में जोड़ दिया गया है, जिसका मजदूरी 295 ₹ प्रतिदिन की दर से पारिश्रमिक भुगतान किया जा रहा है जो श्रमिकों के साथ दुःखद व अन्याय की बात हैं।

श्रमिकों ने  केम्पा मद से हटाकर पूर्व की तरह अनुसूची (ख) में जोड़ कर 1 अक्टूबर 2019 से 30 मार्च 2020 की सूची अनुसार मजदूरी निर्धारित करने या जाॅब दर पर मजदूरी भुगतान कराने की मांग रखा है।
          यूथ इंटक के प्रदेशाध्यक्ष चन्द्रेशसिंह ठाकुर ने श्रमिकों को भरोसा दिलाते हुए उन्हें उनका उचित पारिश्रमिक भुगतान कराने एवं इस मामले में उच्चाधिकारियों से चर्चा कर पहल करने की बात कहा हैं। इस मौके पर प्रदेशाध्यक्ष के साथ यूथ इंटक के प्रदेश उपाध्यक्ष शैलेन्द्र लाहौरिया, अनिल वाधवानी सहित वनकाष्ठागार के समस्त श्रमिकगण बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने