Video : बांसपानी से शुरू हुई राम वन गमन पथ पर बाइक रैली, कांकेर से रुद्री पहुंचे रथ का हुआ स्वागत

 

जय श्री राम के नारों से राममय हुआ राम वन गमन परिपथ



धमतरी 16 दिसम्बर 2020। भगवान श्री राम वनवास के दौरान जिन रास्तों से गुजरे, प्रदेश सरकार की मंशा के अनुरूप उन रास्तों को चिन्हांकित कर पर्यटन सर्किट के तौर पर विकसित करने की योजना है। परिणाम स्वरूप राम वन गमन परिपथ में बाइक रैली तीसरे दिन बुधवार को धमतरी स्थित नगरी के वनांचल बांसपानी से शुरू हुई। इस दौरान सिहावा विधायक डॉ.लक्ष्मी ध्रुव द्वारा हरी झण्डी दिखाकर बाइकर्स को रवाना किया गया। इस मौके पर जिला पंचायत अध्यक्ष  कांति सोनवानी, जिला पंचायत सदस्य  कविता बाबर, मीना बंजारे,  मनोज साक्षी, जनपद अध्यक्ष नगरी  दिनेश्वरी नेताम, जनपद अध्यक्ष मगरलोड ज्योति ठाकुर, कांग्रेस जिलाध्यक्ष शरद लोहाना सहित अन्य जनप्रतिनिधि, गणमान्य नागरिक इत्यादि उपस्थित रहे।

 

आदिवासी बाहुल्य नगरी के जिन गांवों से बाइक रैली गुजरी, जगह-जगह पुष्प वर्षा से उसका स्वागत किया गया। गांवों में राम कथा का पाठ भी जगह-जगह आयोजित किया गया। बांसपानी से होते हुए बाइक रैली टांगापानी, बिरगुड़ी, सेमरा, सिहावा से होकर नगरी पहुंची। यहां बस स्टैंड में श्रद्धालुओं ने बाइकर्स का पुष्प वर्षा से भव्य स्वागत की। यहां से फिर बाइकर्स का दूसरा दल रैली में शामिल हुआ। यह रैली दुगली से केरेगांव पहुंची। यहां फिर बाइकर्स समूह बदला, जो रुद्री स्थित रुद्रेश्वर महादेव घाट के लिए रवाना हुआ।      

कांकेर से मुख्य मार्ग होते हुए सीधे धमतरी पहुंचा रथ,हुआ भव्य स्वागत

 कांकेर में एक समुदाय द्वारा रथ  और उठाए जाने वाले मिट्टी के विरोध के कारण रथ को कांकेर से सीधा मुख्य मार्ग होते हुए धमतरी लाया गया।श्यामतराई में रिसीव करने के बाद उसे ससम्मान रुद्री लाया गया।

प्रदेश के मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल की मंशा अनुसार जिले में राम वन गमन पथ के तहत आज रथ यात्रा एवं बाइक रैली का आयोजन धूमधाम से किया गया। ग्राम पंचायत रुद्री स्थित विख्यात रुद्रेश्वर महादेव मन्दिर परिसर में मंचीय कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें मुख्य अतिथि के तौर पर छत्तीसगढ़ राज्य नागरिक आपूर्ति निगम के अध्यक्ष  राम गोपाल अग्रवाल उपस्थित रहे। अपने उद्बोधन में कहा कि प्रदेश के भूपेश बघेल ने राम वन गमन परिपथ के विकास तथा जन जागरूकता के लिए प्रदेश सुदूर उत्तर में जशपुर जिले से तथा सुदूर दक्षिण सुकमा के रामाराम से चंदखुरी तक रथयात्रा निकाली गई। अपने संक्षिप्त उद्बोधन में उन्होंने आगे कहा कि प्रदेशवासियों के लिए यह गर्व की बात है कि छत्तीसगढ़ भगवान श्रीराम का ननिहाल है। उनके द्वारा बताए गए सद्मार्ग पर चलकर प्रदेश की प्रगति का जिम्मा मुख्यमंत्री ने उठाया है।

 


 कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रही सिहावा विधायक डॉ. लक्ष्मी ध्रुव ने कहा कि राम राज्य की स्थापना का ध्येय लेकर राम वन गमन पथ की पहचान और विकास प्रदेश सरकार द्वारा की जा रही है। विशिष्ट अतिथि के तौर पर उपस्थित संसदीय सचिव कुंवर सिंह निषाद ने प्रदेश के जनमानस कि आस्था के अनुरूप छत्तीसगढ़ की प्राचीन परंपरा संस्कृति और धार्मिक भावनाओं को ध्यान में रखकर रथ यात्रा आयोजित करने की बात कही। इस अवसर पर महापौर विजय देवांगन, जिला पंचायत की अध्यक्ष कांति सोनवानी, उपाध्यक्ष  नीशू चंद्राकर, शरद लोहाणा, मोहन लालवानी,पूर्व विधायक धमतरी हर्षद मेहता, गुरुमुख सिंह होरा तथा कुरूद के पूर्व विधायक लेख राम साहू मंचासीन थे।

     इसके पहले, दोपहर कांकेर जिले से होकर भव्य रथ का आगमन रुद्री के रुद्रेश्वर मन्दिर में हुआ, जहां पर अतिथियों एवं अधिकारियों के द्वारा भगवान श्री राम, सीता और लक्ष्मण की मूर्ति की पूजा अर्चना कर आत्मीय स्वागत किया गया। स्वागत के उपरांत रथ यात्रा का जत्था ग्राम मुड़पार, भोयना, मथुराडीह होते मगरलोड विकासखंड के ग्राम सलोनी पहुंचा। इस दौरान मार्ग में पड़ने वाले सभी गांवों में ग्रामीणों के द्वारा रथयात्रा तथा इसमें शामिल लोगों का स्वागत किया गया, साथ ही भगवान श्री राम के जयघोष के नारे लगाए गए।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने