बिल नहीं पटाने पर उपभोक्ता का लाइन काटना पड़ा महंगा, लाइनमेन के साथ हुई यह घटना

 


भुपेंद्र साहू

धमतरी।ग्रामीण अंचल में बिजली बिल नहीं पटाने पर लाइनमैन को उपभोक्ता का लाइन काटना उस वक्त मांगा पड़ गया जब उपभोक्ता  ने ही लाइनमैन पर हमला कर दिया। उसके साथ मारपीट कर लूटपाट भी की और उसके गाड़ी को भी तोड़ दिया जिसकी शिकायत अर्जुनी थाना में की गई है।तत्काल आरोपी को गिरफ्तार करने की मांग की है। कर्मचारियों ने अपने अधिकारियों पर यह भी आरोप लगाया है कि ऐसे मौके पर सुरक्षा के इंतजाम नहीं होते हैं सिर्फ वसूली और कार्रवाई का दबाव होता है।


 गोकुलपुर लाइनमैन के पद पर पदस्थ टेकराम मढ़रिया अर्जुनी थाना में लिखित शिकायत दर्ज कराई है कि 16 जनवरी को उच्च अधिकारियों के निर्देश पर शंकरदाह निवासी बलिराम का लाइन काटा था, जिसे भोक्ता द्वारा पुनः जोड़ दिया गया। 19 जनवरी को अपने साथी कुबेर साहू के साथ शंकरदाह पहुंचा तो उपभोक्ता के रिश्तेदार ललित साहू उसके साथ गाली गलौज करते हुए मारपीट की और जेब में रखे मोबाइल को लूट लिया। दुपहिया वाहन के साथ भी तोड़फोड़ की गई है। अधिकारियों को बताने के बाद वह अर्जुनी थाना पहुंचकर f.i.r. करवाया। इस दौरान उनके साथ सहायक यंत्री वीके सिंघई,जेई विनय ठाकुर ,अजय बाबर, एसएल धीवर ,रिखब गोलछा सहित कुकरेल गोकुलपुर धमतरी के बड़ी संख्या में कर्मचारी थे।

पत्रकारों के साथ चर्चा करते हुए के टेकराम ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान किसी से भी वसूली या लाइन काटने की कार्रवाई नहीं की गई थी। अब अधिकारियों के निर्देश पर यह कार्रवाई शुरू की गई है। उसके साथ शंकरदाह में यह घटना घटित हुई है। पिछले कुछ दिनों पहले डोड़की में भी जब लाइन काटने पहुंचे थे तो एक उपभोक्ता ने उसे बलात्कार केस में फंसा देने की धमकी दी थी। अधिकारी वसूली और लाइन काटने का दबाव तो डालते हैं लेकिन सुरक्षा नहीं करते हैं जिसका खामियाजा सिर्फ कर्मचारियों को भुगतना पड़ता है। 

इस संबंध में वीके सिंघई ने कहा कि जिस वाहन में अब लाइन काटने पहुंचेगा उसमें पोस्टर लगाए जाएंगे लोगों को पटाने के लिए जागरूक भी किया जाएगा। यह कार्रवाई जारी रहेगी।



0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने