भैसमुंडी मड़ई में हुई चाकू बाजी की घटना मामले में एक नाबालिग सहित चार आरोपी गिरफ्तार

 


पवन निषाद

मगरलोड। एक जनवरी शुक्रवार को भैसमुंडी मड़ई में चाकूबाजी की घटना हुई थी,जिसमे तीन युवकों पर प्राणघात हमला किया गया था।  इस घटना के मामले में मगरलोड पुलिस ने एक नाबिलग सहित चार आरोपी को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है।


ज्ञात हो कि भैसमुंडी के मड़ई में नगर पंचायत मगरलोड के वार्ड क्रमांक 15 के दो सगे भाई कृपा राम ध्रुव, ढालेंद्र ध्रुव व साथी खिलेश निषाद मड़ई घूमने गए हुए थे। पहले से हो रहे विवाद  को शान्त कराना तीनों युवकों को भारी पड़ गया।भीड़ में किसी ने ढालेंद्र के दायां हाथ मे चोट ,कृपा राम के कमर में बटंची चाकू घुसा दिया एवं खिलेश निषाद के पीठ में चोट पहुँचाया था।घटना से  मड़ई में खलबली मच गई थी। घायलों को तुरंत ईलाज के लिए शासकीय अस्पताल भर्ती किया गया।जिसमें कृपा राम को बेहतर ईलाज के लिए धमतरी रिफर किया । 


पुलिस अज्ञात आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर तलाश में जुट गई थी। घटना के दो दिन बाद पुलिस ने आरोपियों को ढूढ़ निकाला। जिसमें ग्राम भरदा के  दो सगे भाई व एक नाबालिग युवक तथा ग्राम बेलोरा के एक युवक को गिरफ्तार किया गया।

 जांच अधिकारी एसआई सुभाष लाल ने बताया कि मड़ई की शाम नाबालिग युवक का विवाद स्थानीय युवक जोगी उर्फ मिथलेश के साथ हुआ।विवाद बढ़ता देख कर जोगी के मोहल्ले के युवक कृपा राम ध्रुव उसका भाई ढालेंद्र, व साथी खिलेश निषाद बीच बचाव करने आये जिसे देखकर नाबालिग युवक के साथी बुद्धदेव उर्फ देव साहू पिता खेमलाल उम्र 20 वर्ष ग्राम बेलोरा, भरदा के दो सगे भाई नीरज साहू 22 वर्ष , नितेश साहू पिता हुलास साहू 20 वर्ष आकर झगड़ा विवाद करने लगे  इसी दौरान आरोपी बुद्धदेव साहू ने अपने पेंट के जेब मे रखे बटनची चाकू से कृपा राम के कमर में उसके भाई ढालेंद्र के हाथ मे व साथी खिलेश निषाद के पीठ में मारकर फरार हो गया। एक नाबालिग सहित चारों आरोपियों के खिलाफ धारा 307,34 अपराध पंजीबद्ध कर न्यायालय में पेश किया जाएगा।कार्यवाही में  आरक्षक वीरेन्द्र सोनकर, अनूप ध्रुव शामिल रहे।



0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने