पहले दिन से महाविद्यालयों में पढ़ाई शुरू, विद्यार्थियों की उपस्थिति बहुत कम,स्कूलों में लगी 9वीं से 12वीं तक की कक्षाएं

 


भूपेंद्र साहू

धमतरी।शनिवार को हुए कैबिनेट की बैठक मे लिए निर्णय के अनुसार सोमवार 15 फरवरी से सभी महाविद्यालयों में ऑफलाइन कक्षाएं शुरू हो गई है, लेकिन पहले दिन विद्यार्थियों की उपस्थिति बेहद कम रही। जो  आगे चलकर बढ़ने की संभावना है।पहले दिन कुछ कक्षाएं सीमित विद्यार्थियों की उपस्थिति में शुरू भी की गई। कुछ स्कूलों में धमतरी जिले में पहले से ही कक्षाएं जारी रही बाकी में सोमवार से कक्षाएँ लगी।

उच्च शिक्षा विभाग के आदेशानुसार बी.सी.एस.शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यायलय सहित जिले  में ऑफ लाइन कक्षाएं,ऑनलाईन कक्षाओं के साथ-साथ 15फरवरी से समस्त संकायों में भौतिक रूप से क्लास रूम शिक्षण भी 50 प्रतिशत उपस्थिति के दिशा-निर्देश के तहत प्रारंभ कर दी गई है। 

पीजी कॉलेज में बताया कि विज्ञान, कला, वाणिज्य, विधि एवं आई.टी. संकाय के स्नातक एवं स्नातकोत्तर विषयों के 50प्रतिशत उपस्थिति के साथ 15फरवरी से ऑफलाईन कक्षाएॅ भी अब नियमित रूप से टाईम टेबल के अनुसार प्रारंभ कर दी गई है। कोरोना वैश्विक महामारी के कारण विगत कुछ माह से शासन के निर्देशों का पूर्णतः पालन करते हुए महाविद्यालय में समस्त संकायों की ऑनलाईन कक्षाए निर्धारित टाईम टेबल के अनुसार नियमित रूप से संचालित की जा रही थी।

प्राचर्य डॉ.श्रीदेवी चौबे ने बताया कि समस्त संकाय के ऐसे छात्र-छात्राए जो महाविद्यालय में किसी भी कारण से आने में असमर्थ हो वे ऑनलाईन मोड से भी अपना अध्यापन जारी रख सकेंगे साथ ही ऐसे विद्यार्थी जो सर्दी, जुकाम, बुखार अथवा कोरोना के अन्य किसी लक्षण से ग्रसित है वो भी महाविद्यालय न आकर ऑनलाईन कक्षाऐं पूर्व की तरह अटेंड कर सकेंगे। प्राचार्य ने बताया कि संकाय के समस्त व्यिायों के प्राध्यापकों को निर्धारित टाइम टेबल के अनुसार ही ऑनलाईन एवं ऑफलाईन कक्षाए संचालित करने की सूचना प्रदान करते हुए प्रत्येक शनिवार को शासन को कक्षाओं की जानकारी नियमित रूप से प्रदान भी की जा रही है। प्राचार्य डॉ.श्रीदेवी चौबे ने समस्त संकाय के छात्र-छात्राओं को शासन के निर्देशों के तहत ऑनलाईन एवं ऑफलाईन कक्षाआंे में जुड़ने की अपील की। 

धमतरी जिले में दसवीं बारहवीं की कक्षाएं पहले से ही शुरू करने के आदेश तत्कालीन सीईओ नम्रता गांधी ने दिए थे, जिसका पालन करते हुए कई शासकीय और निजी स्कूलों में कक्षाएं शुरू की गई थी।कुछ शासकीय स्कूलों में नवी ग्यारहवीं भी जनवरी माह से शुरू कर दिया गया । अब सभी स्कूलों में15 फरवरी से नियमित कक्षाएं शुरू कर दी गई।

 कन्या शाला की प्राचार्य बी मैथ्यू ने बताया कि 20 दिसंबर से दसवीं बारहवीं की कक्षाएं शुरू हो चुकी थी ।अभी नवी ग्यारहवीं की कक्षाएं 10 जनवरी से शुरू कर दी गई है ।9वीं से बारहवीं तक के 662 विद्यार्थी हैं।सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जाता है। सभी टीचर विद्यार्थियों के सर्दी खांसी बुखार पर जरूर ध्यान देते हैं यदि किसी का पाया जाता है तो उन्हें अटेंड नहीं करने की सलाह दी जाती है।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने