करेली बड़ी के रेत खदान में रात मे अवैध उत्खनन

 


ग्रामीणों ने बिना पीटपास के  परिहवन करते हाइवा को किया चौकी को सुपुर्द

मगरलोड। ग्राम करेली बड़ी के रेत खदान में ठेकेदार द्वारा रात के अंधेरे में अवैध तरीके से चैन माउंटेट मशीन से उत्खनन कर बिना रायल्टी से हाईवा परिवहन किया जा राहा है।अधिकतर हाईवा बिना रायल्टी से रातो में ही निकाली जा रही है। शिकायतकर्ता ग्रामीण  यादराम निषाद पंच,श्रीराम साहू,संतोष साहू, कुशलकांत साहू,अशोक साहू, योगेंद्र साहू,राजू साहू,नकुल,राकेश ने बताया कि ठेकेदार द्वारा रेत घाट से बिना रॉयल्टी से परिवहन किया जा रहा है। 

शासन प्रशासन द्वारा राजस्व वृद्धि के लिये रेत का ऑनलाईन टेंडर किये है लेकिन  जब हाईवा वालो से पूछा कि आप लोगों को रायल्टी देता है की नहीं तो जवाब मिलता है कि  ठेकादार द्वारा किसी भी प्रकार का रायल्टी नहीं दिया जा रहा है।बिना रॉयल्टी हाइवा गाड़ी को पुलिस चौकी को सुपुर्द किया गया। ग्रामीणों ने आगे बताया कि अभी तक लगभग हजारों हाइवा गाड़ियाँ करेली बड़ी के रेत खदान से बिना रॉयल्टी से निकाल जा चुके है। खदान में कितना रायल्टी बुक काटा गया है इसका कोई हिसाब  नहीं है।

अवैध उत्खनन की रोक एवं गाँव की समस्या की लिखित शिकायत जिला कलेक्टर धमतरी , अनुविभागीय अधिकारी कुरुद ,तहसीलदार मगरलोड , किया जा चुका है लेकिन अभी तक कोई ठोस कदम नहीं उठाया गया है। ठेकेदार व खनिज विभाग के अधिकारियों के साथ मिलीभगत कर रात में मशीन से उत्खनन किया जा रहा है।जिससे शासन को  राजस्व का भारी नुकसान हो रहा है।

रात में उत्खनन प्रतिबंधित है

सुप्रीम कोर्ट के गाइडलाइन के अनुसार कोई भी रेत खदान में  मशीन से उत्खनन  दिन हो चाहे रात में उत्खनन प्रतिबंधित है।


इस सम्बंध में जिला खनिज अधिकारी सनत साहू से मोबाइल पर सम्पर्क करने की कोशिश किया गया लेकिन नही हो पाया।


0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने