पीएससी मामले में एबीवीपी और युवा मोर्चा का अलग-अलग प्रदर्शन

 


धमतरी। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग के नाम अपर कलेक्टर महोदय को ज्ञापन सौंपा। जिसमे बताया गया कि आयोग ने इस वर्ष फरवरी माह में आयोजित राज्य सेवा परीक्षा (प्रारम्भिक) 2021 के जो संशोधित मॉडल उत्तर जारी किये हैं उनमें भी कई त्रुटियाँ सामने आयी हैं। कुछ अन्य प्रश्नों के उत्तर भी इसमें गलत बताए गए हैं। इससे परीक्षार्थियों में आयोग की कार्य प्रणाली को लेकर कई प्रकार की आशंकाएँ उत्पन्न हो रही हैं।


विद्यार्थी परिषद ये मांग करती है कि परीक्षार्थियों की आशंकाओं को दूर करने के लिए इन उत्तरों की सन्दर्भ सूची जल्द-से-जल्द सार्वजनिक की जाए और मॉडल उत्तरों में त्रुटियाँ सुधारी जाए साथ ही पुनः परीक्षा परिणाम घोषित किया जाए। इसके साथ-साथ इन त्रुटियों के लिए जिम्मेदार अधिकारियों एवं विषय विशेषज्ञों पर कड़ी कार्रवाई की जावे।ज्ञापन सौपने वाले में विभाग संयोजक वेदप्रकाश साहू ,जिला संयोजक ओमेश यादव , चन्दराम साहू ,भूषण सिन्हा ,सुभाष यादव ,रुपाली सोनी ,पूजा यादव ,मनीष जांगड़े , वेदप्रकाश साहू आदि कार्यकर्ता उपस्थित थे।


भाजयुमो ने चलाया हस्ताक्षर अभियान

भाजयुमो का कहना है कि छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग  में हो रहे घोटाले एवं युवाओ के भविष्य के साथ खिलवाड़ को लेकर राज्यपाल के नाम 10सूत्रीय मांग पत्र को लेकर प्रत्येक मंडल स्तर तक तीन दिवसीय हस्ताक्षर महाभियान जिलाध्यक्ष  विजय मोटवानी के नेतृत्व में चलाया जा रहा जिसका आरम्भ पीजी कॉलेज में अभियान चलाकर किया गया।

उक्त अभियानके प्रमुखरूप से युवामोर्चा जिलाध्यक्ष विजय मोटवानी,  राजीव सिन्हा,अविनाश दुबे, पुष्कर यादव,रामकृष्ण ध्रुव,सत्यम चंद्राकर, विनय जैन, नितिन प्रजापति, नवनीत शर्मा, विक्की साहू चिराग आथा, प्रतीक सोनी, सुभाष चंद्रकार,कीर्तन मीनपाल,उमेश मसीह, मनीष सिन्हा, गोविदा गुप्ता, नोहर फुटान, यश गांधीआदि शामिल हुए।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने