हृदय विदारक घटना : मां नशे में धुत पड़ी रही, इधर डेढ़ माह की दुधमुंही बच्ची ने दम तोड़ा



सुंदरगंज वार्ड की घटना, मौके पर पहुंची पुलिस



भूपेंद्र साहू

धमतरी।कोतवाली थाना क्षेत्र के अंतर्गत दर्द विदारक घटना सामने आई है। सुंदरगंज वार्ड में मां रात भर शराब के नशे में धुत पड़ी रही और उसकी डेढ़ माह की मासूम बेटी भूख-प्यास से तड़पती रही। आखिरकार उसने दम तोड़ दिया।जानकारी लगने पर जब पुलिस पहुंची तो महिला नशे की वजह से बोल भी नही पा थी। पुलिस मर्ग कायम कर आगे की जांच में जुट गई है।

भौतिकता के युग में लोग कहां से कहां पहुंच रहे हैं।  एक ऐसी घटना  शहर में सामने आई है  जो समाज के लोगों को  सोचने पर मजबूर कर दिया है मां-बेटी का रिश्ता अटूट होता है। खासकर जब बच्चा एक साल के अंदर हो तो वह मां के लिए जान से ज्यादा प्यारा होता है। मां खुद तो भूखी-प्यासी रह जाएगी लेकिन जान से ज्यादा प्यारे बच्चे को भूख से तड़पता नहीं देख सकती। कोतवाली थाना क्षेत्र के अंतर्गत सुंदरगंज वार्ड में एक महिला नशे में धुत पाई गई। बाजू में ही मां से लिपटी हुई उसकी डेढ़ माह की बच्ची मृत अवस्था में थी। सूचना मिलने पर कोतवाली से एसआई एस. नायक, एएसआई संतोषी नेताम जब पहुंचे तो मृत बच्ची को उसके दादा ने मां से हटा लिया था। इस घटना से लोग स्तब्ध रह गए हैं क्योंकि अब तक पुरुषों के शराब सेवन की वजह से लोगों की जान जाती थी। यहां पर एक महिला वह भी दुधमुंही बच्ची की मां की वजह से बच्चे की जान गई है।


कोतवाली थाना प्रभारी नवनीत पाटिल ने बताया कि सुंदरगंज वार्ड निवासी राजमीत कौर 26 वर्ष शराब के नशे की आदी है। पति हरमीत  मोटर मैकेनिक का काम करता है। सुबह वह ट्रक रिपेयरिंग के लिए जगदलपुर निकल चुका था। इसके 2 बच्चे हैं। एक डेढ़ माह की और दूसरी लगभग 2 वर्ष की है। महिला रात से नशे में धुत थी। उसके बाजू में डेढ़ माह की बच्ची सोई हुई थी। सुबह मृत अवस्था में पाई गई। महिला को इस बात का बिलकुल भान नहीं है कि उसकी मासूम बच्ची की मौत हो चुकी है। मौत कैसे हुई यह स्पष्ट नहीं है। पोस्टमार्टम के बाद ही पता चल पाएगा। उसके बाद ही आगे की कार्यवाही की जाएगी।




0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने