एफआईआर मामले में भाजयुमो ने गांधी प्रतिमा के सामने किया विरोध प्रदर्शन

 

 

 अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के हनन पर काला दिवस मनाने का निर्णय

धमतरी। हस्ताक्षर अभियान के तहत पीजी कॉलेज के क्लास रूम में जाने के मामले में भाजयुमो के पदाधिकारियों पर जो एफआईआर दर्ज की गई है उसके विरोध स्वरूप बुधवार को पदाधिकारियों ने गांधी प्रतिमा के सामने अपना विरोध जताया । कहा कि यह लोकतांत्रिक अधिकारों का हनन है। सभी व्यक्ति को अपने अभिव्यक्ति की आजादी है।

भारतीय जनता युवा मोर्चा के सदस्यों ने कहा कि जिला अध्यक्ष विजय मोटवानी के नेतृत्व में लोक सेवा आयोग की परीक्षाओं में हुई गड़बड़ी के विरोध में शांतिपूर्ण तरीके से लोकतांत्रिक रास्ते को अख्तियार करते हुए हस्ताक्षर अभियान चला रहे थे जिसमें मौखिक रूप से अनुमति भी ली गई थी किंतु सरकारी हथकंडे के दबाव में आकर राजनीतिक प्रपंच का सहारा लेते हुए अनावश्यक रूप से प्रथम सूचना प्रतिवेदन सिटी कोतवाली थाने में दर्ज कराने हेतु पत्र प्रेषित करवाने का  प्रयास किया गया। जिसके विरोध स्वरूप भारतीय जनता युवा मोर्चा ने एक बैठक आहूत कर उक्त कृत्य के लिए भर्त्सना करते हुए निंदा प्रस्ताव पारित किया है। उपस्थित सभी कार्यकर्ताओं ने एक स्वर से कहा है कि ऐसे किसी भी दबाव के आगे जनहित की आवाज दब नहीं सकती बल्कि और मुखर होकर हम आगे कार्य करने के लिए प्रेरित होंगे। उन्होंने यह भी निर्णय लिया है।लोकतांत्रिक कार्य की विरोध स्वरूप गुरुवार को युवा मोर्चा के सारे सदस्य कर काला फीता लगाकर काला दिवस के रूप में मनाते हुए विरोध जाहिर करेंगे। 


इस अवसर पर भाजपा जिलामहामंत्री कवींद्र जैन, प्रदेश प्रकोष्ठ संयोजक महेन्द्र पंडित, प्रदेश कार्यसमिति प्रितेश गाँधी, जिला भाजपा कोषाध्यक्ष चेतन हिंदूजा, भाजपा  नेताप्रतिपक्ष नरेंद्र रोहरा, मंडल अध्यक्ष विजय साहू, डीपेंद्र साहू, राजीव सिन्हा, जिलामहामंत्री भाजयुमो अविनाश दुबे,पुष्कर यादव,अखिलेश सोनकर, गायत्री  मिथलेश सिन्हा, किर्तन मीनपाल, कैलाश सोनकर ,नितिन प्रजापति, जितेंद्र पटेल, आकाश पांडेय, भेष साहू, तरुण साहू, प्रशांत पटेल,  गोपाल साहू, धनंजय तिवारी, रवि देवांगन, गोपाल जोशी,मनीष असवानी आदि मौजूद थे।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने