टीका लगाया जाना है 45+ वालों को और 35 साल की संसदीय सचिव ने भी लगवाया, भाजपा बोली पद का दुरूपयोग

 


 बीजेपी के ऑफिसियल ट्विटर हैंडल में कहा- इसी वज़ह से आमजनों तक नही पहुँचती वैक्सीन


हंगामा होने पर संसदीय सचिव ने हटाया पोस्ट

वतन जायसवाल

रायपुर। संसदीय सचिव शकुंतला साहू पर कोरोना टीकाकरण नियम उल्लंघन का बड़ा आरोप भाजपा ने लगाया है साथ ही स्वास्थ्य मंत्री से सवाल किया कि क्या इन्हीं कारणों से तो आमजनों को वैक्सीन नही मिल पा रही?

 छत्तीसगढ़ भाजपा के आधिकारिक ट्वीटर हैंडल से संसदीय सचिव शकुंतला साहू का वह पोस्ट रीट्वीट किया गया, जिसमें सुश्री साहू कोरोना वैक्सीन लगवाते नज़र आई और लिखा आज मैंने कोरोना पहला टीका लिया। मैं कृतज्ञ हूं वैज्ञानिकों की इस ख़ोज के प्रति जिन्होंने इतने कम समय में यह जीवन रक्षक दवा बनाई। कोविडशील्ड टीम को बधाई।


     भाजपा विधायक सौरभ सिंह ने कहा कि जब केंद्र ने कोरोना टीकाकरण की आयु 45+ की सीमा तय की है तो संसदीय सचिव सुश्री साहू जो कि 35 वर्ष की है नियम विरुद्ध  जाकर अपने पद का दुरूपयोग किया और टीकाकारण करवा लिया। 

श्री सिंह ने आरोप लगाया कि कांग्रेस के नेता कोरोना के खिलाफ जारी जंग में नियमों का उल्लंघन कर रहे है। उन्होंने मुख्यमंत्री से मांग की है कि इस गैर- जिम्मेदाराना आचरण के लिए संसदीय सचिव शकुंतला साहू को पद से बर्खास्त करते हुए इन पर कड़ी कार्रवाई भी की जाए।

पूर्व मंत्री और विधायक अजय चंद्राकर ने भी इस मामले में ट्वीट किया है।



0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने