लाकड़ाउन में शराब न मिलने से लोगों की मौत, इसलिए अब खुलेंगी शराब दुकान, फ़र्जी पत्र हुआ वायरल

 


वतन जायसवाल

रायपुर। लाकड़ाउन से शराब दुकानें बंद है, तो ऐसे में कई लोगों की मौत शराब न मिलने के कारण हुई। लोग चुरा कर शराब सेवन करने में लगे है। तो आज से आबकारी विभाग ने निर्णय लिया है कि शराब दुकानों को जनहित में खोला जाएगा।

अगर आप भी वायरल  हो रहे इस पत्र को सही मानकर सरकार को कोस रहे है। तो बता दें कि यह खबर बिलकुल ही निराधार है। आबकारी विभाग के किसी पुराने परिपत्र में कांट छांट कर के अज्ञात लोगों ने यह पत्र तैयार किया और सोशल मीडिया में वायरल कर दिया। 

पत्र को  गौर से देखने पर सबसे उपर लिखा है क्रमांक/सी.एस.एम. सी. एल./ठेका/2020/1016 पत्र जब समाप्त हुआ वहां पर लिखा है 

पृष्ठ क्रमांक/सी.एस.एम. सी. एल./ठेका/2020/1017 अब गौर करने वाली बात ये है कि एक ही पत्र में 1016 और 1017 लिखा है। वही 2020 लिखा है जो साल 2020 को दर्शाता है। पत्र जारी दिनांक में भले ही हेरफेर कर 14 अप्रेल 2021 लिख दिया गया है। जिससे यह स्पष्ट है कि पत्र में छेड़खानी हुई है।


इस संबंध में  आबकारी विभाग ने कहा कि उन्हें पत्र वायरल होने की जानकारी मिली है। लेकिन विभाग की ओर से अब तक कोई भी आदेश जारी नही किया गया। वह पत्र पूरी तरह से फर्जी है। विभाग के पुराने पत्र से छेड़खानी कर अज्ञात लोगों ने ये काम किया है। फ़िलहाल विभाग इस बात की जांच में लग गई है की यह फ़र्जी आदेश सबसे पहले कहाँ से भेजा गया। इसके बाद हम उचित कार्रवाई करेंगे।



0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने