दिल्ली के बिगड़ते पर्यावरण के लिए केजरीवाल सरकार जिम्मेदार : मनोज तिवारी

-भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने केजरीवाल सरकार को घेरा



 -ऑड ईवन दिल्ली की आम जनता के लिए बड़ी परेशानी
-राम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट के निर्णय पर संयम रखे हिन्दु समाज

वृंदावन।
वात्सल्य ग्राम में रविवार को नि:शुल्क नेत्र शल्य चिकित्सा शिविर के समापन समारोह में शिरकत करने पहुंचे मुख्य अतिथि भाजपा दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद मनोज तिवारी ने दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण के लिए केजरीवाल सरकार को घेरा। कहा कि वहां के दिन पर दिन बिगड़ते पर्यावरण के लिए केजरीवाल सरकार पूरी तरह से जिम्मेदार है।पत्रकारों से मुखातिब हुए उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री केजरीवाल अपनी गलतियों को छिपाने के लिए केंद्र और हरियाणा सरकार के खिलाफ अनर्गल बयानबाजी कर रहे हैं। कहा कि दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण के लिए हरियाणा के किसानों पर आरोप लगाना महज झूठ परोसना है। बताया कि दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण में हरियाणा में पराली जलाने का मात्रा 8 प्रतिशत असर है लेकिन दिल्ली सरकार 92 प्रतिशत को भूल कर 8 प्रतिशत पर दोष मढ़ रही है। कहा कि इस गंभीर मुद्दे पर सरकार को राजनीति करने के बजाए ठोस रणनीति के तहत काम करना चाहिए। बताया कि हरियाणा सरकार किसानों से पराली खरीद कर बिजली और खाद बनाने की पहल कर रही है। दिल्ली में वाहनों पर ऑड ईवन स्कीम लागू करने करे प्रश्न पर उन्होंने कहा कि इससे दिल्ली का कोई भला नहीं होने वाला है। यह स्कीम तभी लागू हो सकती है जब हमारा पब्लिक ट्रांसपोर्ट सिस्टम मजबूत हो। ताकि आम जनता को कोई परेशानी न हो। सही मायने में ऑड ईवन दिल्ली की आम जनता के लिए परेशानी का बड़ा कारण है।
राम मंदिर मामले में सुप्रीम कोर्ट द्वारा दिए जाने वाले फैसले के सवाल पर उन्होंने कहा कि उन्हें विश्वास है कि सुप्रीम कोर्ट का निर्णय हिंदू समाज के पक्ष में होगा। परन्तु निर्णय जो भी आए उसे सभी को स्वीकारना होगा। उन्होंने हिन्दु जनमानस से संयम बरतने का आह्वान किया।उन्होंने दावा किया कि दिल्ली के आगामी विधानसभा चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में पूर्ण बहुमत की भाजपा सरकार बनेगी। कहा कि दिल्ली जनता केजरीवाल सरकार के खोखले दावे और नीतियों को भली भांति समझ चुकी है। अब प्रदेश की जनता भाजपा सरकार पुन: बनाने का मन बना चुकी है।
..........
क्रासर

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने