VDO:धमतरी को सुरक्षित रखने लॉक डाउन पर पुलिस हुई सख्त, होने लगी कार्यवाही


बेवजह घूमने वालों पर को मिलने लगी सजा 


भूपेंद्र साहू 
धमतरी।मंगलवार को भी लोग सुबह से ही बेवजह घूमने के लिए निकल पड़े थे जिसके लिए मकई चौक पर मोर्चा खोल दिया गया था ।पुलिस द्वारा  बिना वाजिब कारण के इधर उधर जा रहे लोगों पर कई प्रकार की कार्यवाही की गई। कुछ लोगों के वाहन जप्त किए गए, कुछ लोगों को फाइन किया गया और कुछ लोगों को उठक बैठक भी कराया गया ।सोमवार को भीड़-भाड़ देखने के बाद मंगलवार को पुलिस सख्त नजर आई ।मकई चौक पर सीईओ नम्रता गांधी, एएसपी मनीषा ठाकुर, एसडीएम मनीष मिश्रा ,आयुक्त आशीष टिकरिहा  प्रभारी तहसीलदार ज्योति मसियारे सहित कई निरीक्षक यातायात प्रभारी और पुलिस के जवान तैनात थे ।
इसके अलावा सभी चौक चौराहों में मुख्य मार्गों में जवानों की तैनाती कर दी गई थी जो बेवजह घूमने वालों पर कार्रवाई कर रहे थे। सजा के तौर पर उन्हें मैं अपने परिवार व समाज का दुश्मन हूं मैं घर में नहीं रह सकता पंपलेट पकड़ा कर तस्वीरें ली गई जिसे वायरल किया गया ।

इसके अलावा कुछ लोगों को सार्वजनिक तौर पर उठक बैठक भी कराया गया ।लोगों को बार-बार समझाइश दी जा रही है कि वे बेवजह घर से ना निकले ।यदि अस्पताल जा रहे हैं तो अपने साथ पर्ची रखें। इस बीच कुछ लोगों ने पुलिस द्वारा जबरदस्ती करने की भी शिकायत की।लोगों का कहना था कि रोककर कारण पूछना चाहिए फिर कार्यवाही हो 

 एसडीएम मनीष मिश्रा ने बताया कि शासन के स्पष्ट निर्देश है कि कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए सभी को अपनी जिम्मेदारी निभानी है ।बेवजह घूमने वालों को 100रु अर्थदंड लगेगा जिसे मुख्यमंत्री राहत कोष में जमा कराया जाएगा ।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मनीषा ठाकुर ने बताया कि दो सब इंस्पेक्टर के नेतृत्व में 44 डीआरजी के जवानों को शहर बुलाया गयाहैं ।स्थानीय पुलिस के जवान गली मोहल्लों में निकले जो भी समूह में इकट्ठे दिखाई देंगे उन पर कार्यवाही की जाएगी।

होम आइसोलेशन में अब 843 लोग 

धमतरी को सुरक्षित रखने अन्य राज्यों और विदेश से आने वाले को आइसोलेशन पर रखा जा रहा है ।क्यूरेन्टाइन  में 19 लोगों को रखा गया था जिसमें से मंगलवार को 6 लोगों को छुट्टी दे दी गई ।इसी तरह अन्य राज्यों से आने वालों की संख्या अचानक बढ़ी है। सोमवार की शाम तक होम आइसोलेशन में 692 लोग थे जो मंगलवार तक बढ़कर 843 हो गये। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ डीके तुर्रे ने बताया कि अब आगे बढ़ने की संभावना कम है क्योंकि सभी राज्यों, जिलों की सीमाओं को सील कर दिया गया है ।सभी रखे लोगों से संपर्क बना हुआ है।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने