डरा-धमकाकर चाकू से हमला कर लूट के दो अलग-अलग मामले में 4 आरोपी गिरफ्तार



 मोबाइल, सोने की चैन का टुकड़ा, घटना में प्रयुक्त चाकू एवं पल्सर मोटरसाइकिल आरोपियों के कब्जे से बरामद


 चौकी बिरेझर पुलिस एवं साइबर तकनीकी सेल की संयुक्त कार्यवाही


ब्यूरो 
धमतरी। डरा-धमकाकर चाकू से हमला कर लूट के दो अलग-अलग मामले में 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। जवाहर पटेलनिवासी जीजामगांव  ने चौकी बिरेझर में रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि  26 जनवरी  को दरबा साप्ताहिक बाजार से सब्जीबेच कर शाम को अपने गांव के दीनू पटेल के साथ अपने-अपने वाहन  में गांव वापस आ रहे थे कि रात्रि करीबन 7:00 बजे दरबा-जीजामगांव के बीच स्थित नर्सरी के पास एक मोटरसाइकिल में 3 लोग आकर उनका रास्ता रोककर चाकू दिखाते हुए लूट करने की नीयत से चाकू से हमला कर उसके जेब से रखे 2000रु  एवं मोबाइल तथा इसके साथी दीनू पटेल के जेब से 800रु  लूट कर दरबा की ओर भाग गए। इसी प्रकार  घनश्याम बंजारे निवासी मैत्री कुंज भिलाई जिला दुर्ग ने रिपोर्ट दर्ज कराया कि  15 मार्च  को अपनी पत्नी के साथ मोटरसाइकिल से भांजी की सगाई कार्यक्रम में सम्मिलित होने डाही (कुरूद) जा रहे थे कि शाम 6:00 बजे कचना के पहले सड़क किनारे मोटरसाइकिल में दो व्यक्ति आकर रुके जिसमें से एक व्यक्ति मोटरसाइकिल से उतर कर उसकी पत्नी के गले से सोने की चेन लूटकर भागने लगा जिसे उसके द्वारा रोकने पर लुटेरे द्वारा चाकू से वार कर भरेंगाभाठा की ओर भाग गए। उक्त दोनों रिपोर्ट पर अज्ञात आरोपियों के विरुद्ध धारा 397 भादवि के तहत अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

  अपराध की सूचना पुलिस अधीक्षक बी.पी. राजभानु को मिलने पर  आरोपियों की पतासाजी कर वैधानिक कार्यवाही हेतु चौकी बिरेझर पुलिस एवं साइबर तकनीकी सेल की संयुक्त टीम गठित कर आवश्यक निर्देश दिए।  एएसपी  मनीषा ठाकुर  के मार्गदर्शन एवं पुलिस अनुविभागीय अधिकारी कुरूद रश्मिकांत मिश्र के पर्यवेक्षण में तकनीकी साक्ष्य एकत्र करते हुए बताए गए हुलिए के आधार पर अज्ञात आरोपियों की लगातार पतासाजी की जा रही थी।

         इसी दौरान विश्वस्त सूत्रों से सूचना मिली कि एक काले रंग की मोटरसाइकिल में बताए गए हुलिया के समान 22-23 वर्ष के तीन लड़के जीजामगांव के आसपास घूम रहे हैं, जिनकी गतिविधियां संदिग्ध लग रही है। उक्त सूचना से वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराकर उनके निर्देशानुसार संयुक्त पुलिस टीम के द्वारा तत्काल रवाना होकर घेराबंदी करते हुए 3 लड़कों को एक काले रंग की पल्सर मोटरसाइकिल में घूमते हुए पकड़कर कड़ाई से पूछताछ किया गया। पकड़े गए संदेही सन्नी ध्रुव ने बताया कि अपने साथी शेखर सिन्हा, महेश मनहरे एवं इंद्र कुमार गायकवाड़ के साथ मिलकर सूनसान रास्ते से गुजरने वाले लोगों को निशाना बनाकर लूटपाट करते थे और लूट किए गए रुपए व सामान को आपस में बंटवारा कर लेते थे. लूटे गए सामान को आपस में बंटवारा करना बताकर सोने की चैन का टुकड़ा कीमती 30000 रु एवं एक  मोबाइल पेश करने पर गवाहों के समक्ष बरामद किया गया। आरोपी शेखर सिन्हा से घटना में प्रयुक्त काले रंग की पल्सर मोटरसाइकिल सीजी 04 MT 2302 व महेश मनहरे से घटना में प्रयुक्त चाकू बरामद कर इंद्र कुमार गायकवाड की संलिप्तता पाए जाने पर उसके सकुनत से हिरासत में लिया गया। प्रकरण में आरोपी -
1.सन्नी ध्रुव पिता रमेश उम्र 22 वर्ष वार्ड क्रमांक 7 शासकीय अस्पताल के पीछे अभनपुर जिला रायपुर, 
2.शेखर सिन्हा उम्र 23 वर्ष जिला धमतरी 
3.महेश मनहरे उर्फ मानसिंह पिता सुखचंद उम्र 21 वर्ष  शिक्षक नगर राजिम रोड अभनपुर जिला रायपुर
4.इंद्र कुमार गायकवाड पिता स्वर्गीय नामदास गायकवाड उम्र 22 वर्ष सलोनी थाना मुजगहन जिला रायपुर को गिरफ्तार किया गया।

    संपूर्ण कार्यवाही में उप निरीक्षक शांता लकड़ा, सहायक उपनिरीक्षक राधेश्याम बंजारे, प्रधान आरक्षक दारा सिंह चंद्राकर, आरक्षक विमल पटेल, चंद्रहास टंडन एवं साइबर तकनीकी सेल से प्रधान आरक्षक प्रदीप सिंह, प्रहलाद बंछोर, आरक्षक कुलदीप सिंह, व मुकेश मिश्रा शामिल रहे ।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने