देवी स्थल के निर्माण कार्य में भ्रष्टाचार पर 5 माह बाद भी नही हुई कार्यवाही,विरोध में व्यापारियों ने दुकान बंद रखा

 


आरती गुप्ता
नगरी।नगर पंचायत शीतला मंदिर प्रांगण में हुए भ्रष्टाचार को लेकर नगर व्यवस्था समिति के आव्हान पर नगर के व्यापारियों ने रविवार को अपनी प्रतिष्ठानें बंद रखा। नगर पंचायत नगरी के अंतर्गत स्थापित शीतला मंदिर प्रांगण में ठेकेदार द्वारा खुलकर भ्रष्टाचार का आरोप है,जिसकी जांच व कार्रवाही हेतु नगर व्यवस्था समिति द्वारा नगर पंचायत के उच्चाधिकारियों को 8 मई को आवेदन दिया गया था,
 
  आज तक इस विषय पर अधिकारियों द्वारा कोई ठोस कार्रवाही नही की गई है ।जिसके विरोध में नगर व्यवस्था समिति ने तीसरे इतवारी त्यौहार को नगर बंद करने का निर्णय लिया था। जिस पर 16 अगस्त को भ्रष्टाचार के खिलाफ़ जांच और कार्रवाही को लेकर नगर व्यवस्था समिति के आव्हान पर व्यापारियों ने अपनी दुकान स्वस्फूर्त बद रखकर भ्रष्टाचार का विरोध किया है। व्यापारियों का कहना है कि अब तक किसी प्रकार की जांच और कार्रवाही नही करना भ्रष्टाचार को पनाह देना है।
 
मामला यह कि कुछ जिम्मेदार जनप्रतिनिधि निर्माण कार्याे में अपने करीबियों को लाभ दिलाने में जुट गए है। यहीं कारण टेंडर किसी दूसरे को और निर्माण कार्य पेटी ठेकेदार करा रहे है। 
नगरी के मां शीतला मंदिर ग्राउण्ड परिसर में चेकर टाईल्स के लिए पार्षद निधि से स्वीकृति मिली है। राशि स्वीकृत होने के बाद से ही निर्माण टेंडर-टेंडर का खेल शुरू हो गया। जिस ठेकेदार को ठेका मिला, उसके बजाय दूसरे पेटी ठेकेदार ने निर्माण कराया। निर्माण में गुणवत्ताहीन मटेरियल का उपयोग किया गया। 
 
निर्माण में गुणवत्ता नहीं होने पर नगर व्यवस्था समिति के अध्यक्ष ललित शर्मा पहले आपत्ति जताई। इसके बाद भी लगातार निर्माण कार्य जारी रहा। नगर पंचायत के सीएमओ ने निर्माण से लिखित शिकायत कर ठेकेदार के खिलाफ कार्रवाई की मांग रखी। इसके अलावा जिस इंजीनियर की देखरेख में काम हुआ, उसके खिलाफ भी कार्रवाई किए जाने के लिए आवेदन किया गया था, लेकिन 5 माह बीत जाने के बाद न तो जांच हुई और न कोई कार्रवाई। सूत्रों का कहना है कि नगर पंचायत के एक जिम्मेदार जनप्रतिनिधि ने अपने करीबी से यह निर्माण कार्य कराया है। यहीं कारण है कि अफसर किसी तरह कार्रवाई और जांच के लिए खुलकर सामने नहीं आ रहे है। पूरे मामले में जांच होगी तो भ्रष्टाचार का बड़ा खुलासा हो सकता है।
 


0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने