कोरोना की जंग हार गए धमतरी के योद्धा, डॉ ठाकुर की अपूर्णीय क्षति



धमतरी। गुरुवार को कोरोना संबंधित धमतरी के लिए जो खबर आई वह स्तब्ध कर देने वाली है। जिसने भी यह खबर सुनी उन्हें विश्वास ही नहीं हो रहा है।कोरोना संक्रमण से धमतरी शहर के प्रसिध्द चिकित्सक,ओजस्वी नर्सिंग होम के संचालक आई एम ए धमतरी अध्यक्ष डॉ. आरएस ठाकुर का गुरूवार को उपचार के दौरान रायपुर के रामकृष्ण अस्पताल में निधन हो गया। डॉ ठाकुर कुछ दिनों पहले कोरोना से संक्रमित हुए थे जिसके बाद उनका इलाज रायपुर में चल रहा था।

डॉ. ठाकुर ने अपने चिकित्सकीय कार्य की शुरूआत मसीही अस्पताल धमतरी से की थी। वे 42 वर्षों तक डॉक्टर के रूप में लोगों की सेवा करते रहे। वे स्वास्थ्य विभाग में डॉक्टर के रूप में भानुप्रतापपुर, कांकेर, धमतरी जिला अस्पताल में भी सेवा दे चुके हैं। वर्ष 2003 में अपना स्वयं का अस्पताल ओजस्वी नर्सिंग होम के नाम से प्रारंभ किया। 6 सितम्बर को कोरोना पॉजिटिव पाए जाने पर उन्हें इलाज के लिए रायपुर अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उन्होंने गुरूवार सुबह अंतिम सांस ली। डॉ. आरएस ठाकुर ने पत्नी, बेटा डॉ. राहुल, बहु रागिनी ठाकुर, बेटी डॉ. रिनी ठाकुर का भरापूरा परिवार छोड़ दिया। उनके निधन पर धमतरी स्वास्थ्य क्षेत्र में शोक की लहर छा गई है। धमतरी आईएमए सदस्यों ने उन्हें भावपूर्ण श्रद्धांजलि दी है। यह धमतरी के लिए अपूर्णीय क्षति है ।सर्जरी में उनका हाथ है इतना रम गया था कि धमतरी जिला सहित आसपास के अन्य दूर-दूर जिलों से भी मरीज उनके पास ऑपरेशन करवाने पहुंचते थे। इस दुख की घड़ी में एमटीआई न्यूज़ पोर्टल उनके परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त करता है।


0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने