सिंचाई के लिए पानी देने प्रस्तावित मगरलोड विकासखण्ड के ग्रामवार सूची की गई जारी

 

ग्रीष्मकालीन रबी फसल (धान) लगाने


धमतरी 09 अक्टूबर 2020।ग्रीष्मकालीन रबी फसल (धान) लगाने सिंचाई के लिए प्रस्तावित ग्रामवार सूची जारी की गई है। कार्यपालन अभियंता, जल संसाधन संभाग, कोड 90  ए.के.पालड़िया से मिली जानकारी के मुताबिक वृहद परियोजना पैरी बांयी तट मुख्य नहर प्रणाली से तीन हजार हेक्टेयर क्षेत्र में रबी फसल (धान) लगाने सिंचाई के लिए पानी देना प्रस्तावित किया गया है। इनमें मगरलोड विकासखण्ड के ग्राम करेलीबड़ी में 700 हेक्टेयर, भोथीडीह 600 हेक्टेयर, ग्राम रांकाडीह में 400 हेक्टेयर, कुण्डेल में 390 हेक्टेयर, खिसोरा 280 हेक्टेयर, मोतिमपुर में 260 हेक्टेयर, हसदा में 195 हेक्टेयर, धौराभाठा में 100 हेक्टेयर, नवागांव 40 हेक्टेयर, भोथा में 20 हेक्टेयर तथा ग्राम आमाचानी में 15 हेक्टेयर क्षेत्र शामिल है।


इसी तरह छः लघु जलाशय से भी 248 हेक्टेयर क्षेत्र में ग्रीष्मकालीन रबी फसल (धान) लगाने सिंचाई के लिए पानी दिया जाना प्रस्तावित किया गया है। इनमें बकोरी जलाशय से ग्राम मड़ेली के 56 हेक्टेयर, बकोरी में 50 हेक्टेयर और ग्राम बनियातोरा में 24 हेक्टेयर क्षेत्र शामिल है। इसी तरह राजाडेरा जलाशय से ग्राम परसाबुड़ा में 20 हेक्टेयर, ग्राम रेंगाडीह में 18 और ग्राम राजाडेरा में 17 हेक्टेयर क्षेत्र में ग्रीष्मकालीन धान लगाने सिंचाई के लिए पानी देना प्रस्तावित किया गया है। भण्डारवाड़ी जलाशय से ग्राम भण्डारवाड़ी में 20 हेक्टेयर, बेलोरा जलाशय से ग्राम बेलोरा में 35 हेक्टेयर, अर्जुनी जलाशय से नगरी विकासखण्ड के ग्राम अर्जुनी में छः हेक्टेयर और गोरसानाला जलाशय से ग्राम गोरसानाला मेें दो हेक्टेयर क्षेत्र में ग्रीष्मकालीन रबी फसल (धान) के सिंचाई के लिए पानी दिया जाना प्रस्तावित किया गया है।


0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने