जिले में 31 दिसम्बर तक चलाया जाएगा ’स्वास्थ्य सुरक्षा अभियान’, बुधवार एवं गुरूवार को दल द्वारा किया जाएगा घर-घर सर्वे


कोविड सर्वेलेंस के साथ-साथ अन्य स्वास्थ्य समस्याओं के निराकरण के लिए

 
File photo

धमतरी 03 नवम्बर 2020/ कोविड सर्वेलेंस के साथ-साथ अन्य स्वास्थ्य समस्याओं के निराकरण के लिए प्रदेश सहित जिले में आगामी 31 दिसंबर तक ’स्वास्थ्य सुरक्षा अभियान’ चलाया जाएगा। इसके तहत हर सप्ताह बुधवार एवं गुरूवार को सर्वे दल द्वारा अपने कार्यक्षेत्र के घरों में कोरोना लक्षण वाले व्यक्तियों की पहचान की जाएगी। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ.डी.के.तुर्रे ने बताया कि इस अभियान का उद्देश्य कोरोना के लक्षण वाले व्यक्तियों का चिन्हांकन करना, उनका कोरोना टेस्ट कराना, जिससे कोरोना संक्रमित व्यक्ति की पहचान जल्द हो सके। इसके अलावा पहचाने गए कोरोना मरीज का जल्द से जल्द इलाज सुनिश्चित करना, कोरोना के मरीजों का आइसोलेशन के जरिए संक्रमण की कड़ी को तोड़ना, कोरोना से बचाव के लिए आवश्यक व्यवहार अपनाने जनजागरूकता लाना और चिन्हांकित व्यक्तियों में लक्षण के आधार पर उपचार एवं परामर्श प्रदाय करना इत्यादि इसका उद्देश्य है। 


अभियान के तहत ग्रामीण एवं शहरी स्लम क्षेत्रों में मितानिन एवं आंगनबाड़ी कार्यकर्ता द्वारा भ्रमण दल का सहयोग किया जाएगा। शहरी गैरस्लम क्षेत्रों में मितानिन कार्यरत नहीं हैं, इसलिए वहां उक्त सर्वे नगरीय निकाय के कर्मियों, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं अथवा अन्य जमीनी अमले द्वारा किया जाएगा। इस दौरान शासकीय स्वास्थ्य संस्थाएं लक्षणात्मक व्यक्तियों की एंटीजन कोविड जांच सुनिश्चित करेंगी। एंटीजन निगेटिव पाए लक्षणात्मक व्यक्तियों की ट्रूनाॅट/आरटीपीसीआर जांच की जाएगी। प्रत्येक मितानिन/दल द्वारा सर्वे के दौरान कोरोना के लक्षण वाले व्यक्तियों की पहचान की जाएगी, इनमें बुखार, सर्दी-खांसी, सांस लेने में तकलीफ, शरीर में दर्द, दस्त अथवा उल्टी होना तथा सूंघने अथवा स्वाद की शक्ति का कम होना शामिल है। सर्वे के दौरान संबंधित ग्राम पंचायत एवं अन्य जनप्रतिनिधियों से अपील की जाएगी कि वे समुदाय को अपने लक्षण खुलकर बताने एवं जांच कराने के लिए प्रेरित करेंगे। 


 

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने