दुष्कर्म का 10 वर्षो से फरार वारंटी इंदौर से गिरफ्तार

 

फरार वारंटी की पतासाजी हेतु उसके गृह ग्राम एवं क्षेत्र में किया गया था पाम्पलेट चश्पा


  मगरलोड।वर्ष 2010 में थाना मगरलोड में धारा 363, 366 376 भा द वि के तहत पंजीबद्ध प्रकरण का अभियुक्त प्रदीप चौबे उर्फ महाराज को गिरफ्तार कर  न्यायालय पेश किया गया था। उक्त अभियुक्त जमानत मिलने पर अपने घर से फरार हो गया।जिसके विरुद्ध  न्यायालय द्वारा गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया।  वारंटी की पतासाजी हेतु थाना प्रभारी मगरलोड द्वारा हर संभव प्रयास किया गया किंतु अभियुक्त के संबंध में कोई जानकारी नहीं मिली।



        इसी बीच थाना प्रभारी मगरलोड प्रणाली वैद्य द्वारा फरार वारंटी की पतासाजी हेतु उसके गृह ग्राम हिच्छापुर थाना सिहावा जिला धमतरी व आसपास के क्षेत्र में उसका पोस्टर भी चस्पा किया गया। चूंकि अभियुक्त मोबाइल का प्रयोग नहीं करता था, अपने परिजनों के संपर्क में नहीं था, साथ ही उसका आधार कार्ड भी नहीं बना था। उक्त वारंटी की पतासाजी हेतु विश्वसनीय मुखबिर भी लगाया गया।



        इसी दौरान विश्वस्त सूत्रों से अभियुक्त प्रदीप चौबे उर्फ महाराज के संबंध में सूचना मिली कि वह इंदौर में रोजी-मजदूरी कर जीवन यापन कर रहा है। उक्त सूचना के आधार पर थाना प्रभारी मगरलोड  विधिवत अनुमति प्राप्त कर थाना स्तर पर टीम तैयार कर  इंदौर भेजा गया। उक्त टीम के द्वारा इंदौर पहुंचकर प्राप्त सूचना के आधार पर सतत निगरानी रखी गई। अभियुक्त अपना नाम बदल कर जगह-जगह घूम रहा था। उसके परिवार के सदस्यों से भी कोई मदद नहीं मिलने पर अंततः पाम्पलेट चस्पा कर आरोपी के घर, बाहर, नगरी, सिहावा क्षेत्र मे पाम्पलेट, पोस्टर के जरिए काफी मशक्कत के बाद आरोपी तक पहुंचा जा सका। अभियुक्त प्रदीप चौबे उर्फ महाराज के मिलने पर हिरासत में लेकर थाना मगरलोड आए और उसकी पत्नी से पहचान कराए जाने पर पुष्टि हुई। अभियुक्त प्रदीप चौबे उर्फ महाराज को अथक प्रयास से गिरफ्तारी वारंट की तामिली कर न्यायालय में पेश किया गया। न्यायालय द्वारा सुपर सेशन वारंट जारी करने पर अभियुक्त प्रदीप चौबे उर्फ महाराज पिता महेंद्र प्रसाद चौबे निवासी ग्राम हिच्छापुर थाना सिहावा जिला धमतरी को जेल भेज दिया गया।

   गिरफ्तारी वारंट तामील करने में थाना प्रभारी मगरलोड प्रणाली वैद्य, उप निरीक्षक सुभाष लाल, आरक्षक गणपत डिंडोलकर, वीरेंद्र सोनकर, देव शंकर सोम एवं महिला आरक्षक डिगेश्वरी साहू शामिल रहे।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने