शहर में 34, जिले में 77 कोरोना संक्रमित मरीज पाए गए, भालूकोना के बुजुर्ग महिला की मौत



भूपेंद्र साहू
धमतरी।कंटेनमेंट जोन घोषित होने के पहले दिन बड़ी संख्या में कोरोना संक्रमित मरीजों की पहचान हुई है। यदि सभी जगह टेस्ट होता तो यह आंकड़ा 100 से पार हो जाता। मंगलवार को जिले में 77 मरीज पाए गए जिसमें शहर से 34 कुरूद से 30 गुजरा से आठ मगरलोड से 5 मरीज मिले हैं जबकि नगरी में कोई भी केस नहीं मिला है। इसी तरह कुरूद के भालूकोना निवासी एक 70 वर्षीय बुजुर्ग महिला की अन्य बीमारियों के चलते कोरोनावायरस सेमौत हो गई।

 22 सितंबर से नगरीय निकाय क्षेत्रों में कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है धमतरी में कुछ देर तक टेस्ट कराने वाले पहुंच ही नहीं रहे थे लेकिन इसके बाद धीरे-धीरे संख्या बढ़ती गई और आखिरकार शाम तक 34 पॉजिटिव मरीज मिल गए। जिसमें डाक बंगला वार्ड 6,रामबाग से पांच ,नयापारा से 3 ,गोकुलपुर ,कोस्टपारा, औद्योगिक वार्ड, रिसाई पारा ,सदर बाजार से दो-दो मरीज मिले हैं। इसके अलावा शिव चौक, जोधापुर, बनिया पारा ,विवेकानंद नगर, टिकरापारा, रामसागर पारा, महालक्ष्मी कॉलोनी ,आकाशगंगा, डीसीएच केंपस और धोबी चौक से भी मरीजों की पहचान हुई है।

 गुजरा ब्लॉक से सेहराडबरी से 6 तेंदूकोना और लोहरसीं से एक-एक मरीज मिले हैं।

 मगरलोड में भेंडरी, मोतीमपुर परसवानी से 5 मरीजों की पहचान हुई है ।
नगरी में कोई भी टेस्ट नहीं हो पाया ।

कुरूद में 30 मरीज चिन्हित किए गए ।जिसमें परखंदा से 9,भखारा से तीन, पचपेड़ी से दो, इसके अलावा करगा ,अछोटी, धूमा,संकरी, भाटागांव,कोकड़ी, नारी, नगर पंचायत के विभिन्न वार्ड और भालूकोना से मरीज मिले हैं ।बीएमओ डॉ यूएस नवरत्न ने बताया कि भालूकोना कि 70 वर्षीय महिला को अन्य बीमारियां थी और कोरोना संक्रमण के चलते बुधवार को निधन हो गया।

इस तरह से जिले में 77 मरीजों की पहचान के बाद अब आंकड़ा 1695 पहुंच गए हैं जिसमें एक्टिव 907 हैं और मृतकों की संख्या 25 तक पहुंच गई है। एनएचएम के संविदा कर्मी हड़ताल पर हैं जिसकी वजह से टेस्ट ,कांटेक्ट ट्रेसिंग, काउंसलिंग प्रभावित हो रही है।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने