शादी का प्रलोभन देकर नाबालिग से दुष्कर्म,आरोपी गिरफ्तार



 अपहृत नाबालिग बालिका आरोपी के कब्जे से हुई बरामद


धमतरी/मगरलोड। थाना  मगरलोड चौकी करेली बड़ी क्षेत्रांतर्गत नाबालिग बालिका से जबरदस्ती दुष्कर्म करने के मामले में आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है । मिली जानकारी के अनुसार नाबालिग बालिका 26 जून की रात्रि घर से बिना बताए कहीं चली गई थी। परिजनो ने आस-पड़ोस, रिश्तेदारों एवं उसकी सहेलियों से पता तलाश किया।कोई पता नहीं चलने पर अपनी नाबालिग पुत्री को किसी अज्ञात व्यक्ति के द्वारा बहला-फुसलाकर अपहरण कर ले जाने की आशंका व्यक्त करने की रिपोर्ट पर अज्ञात आरोपी के विरुद्ध धारा 363 भादवि पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया ।
 अपराध की सूचना मिलने पर पुलिस अधीक्षक धमतरी बी.पी. राजभानू ने अपहृत नाबालिग बालिका एवं अज्ञात आरोपी की जल्द से जल्द पतासाजी कर वैधानिक कार्यवाही करने चौकी प्रभारी करेली बड़ी  को निर्देशित करने पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मनीषा ठाकुर रावटे के दिशा-निर्देश में अपहृत नाबालिग बालिका व अज्ञात आरोपी की पता तलाश की जा रही थी। इसी दौरान सूचना मिली कि अपहृत नाबालिग बालिका को ग्राम चंद्रसुर निवासी यशवंत निषाद बहला-फुसलाकर अपने साथ भगा ले जाकर गृह ग्राम चंद्रसुर में अपने घर में रखा है, जिस पर वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशानुसार त्वरित कार्यवाही करते हुए संदेही यशवंत निषाद के सकुनत में दबिश देने पर अपहृत  नाबालिग बालिका एवं संदेही यशवंत निषाद मिला, जिसे अभिरक्षा में लेकर पूछताछ किया गया। यशवंत निषाद ने उक्त नाबालिग बालिका को अपने साथ भगाकर लाना तथा उसे अपने पास रखना बताया, जिस पर अपहृत नाबालिग बालिका को उसके कब्जे से बरामद कर पीड़ित नाबालिग बालिका से पूछताछ किया गया, जिसने बताया कि यशवंत निषाद ने उसे प्यार करता हूं, शादी कर पत्नि बनाकर रखने का झांसा देकर बहला-फुसलाकर अपने साथ भगा कर लाया और मना करने पर शादी करूंगा कहकर जबरदस्ती शारीरिक संबंध बनाकर दैहिक शोषण किया। पीड़िता के कथन एवं उपलब्ध साक्ष्य के आधार पर मामले में धारा 366, 376 भादवि एवं लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम की धारा 6 जोड़ते हुए आरोपी यशवंत निषाद पिता कमल निषाद उम्र 21 वर्ष निवासी चंद्रसुर चौकी करेलीबड़ी थाना मगरलोड जिला धमतरी को विधिवत गिरफ्तार कर  न्यायालय में पेश कर ज्युडिशियल रिमांड प्राप्त किया गया ।

       कार्यवाही में चौकी प्रभारी करेलीबड़ी उपनिरीक्षक भूपेंद्र चंद्रा, आरक्षक मनोज सिन्हा व संतोष दुबे शामिल रहे।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने