जब पोला तिहार में पुलिस अधिकारी बच्चे बन कर दौड़ाए नांदिया बैला

 


कोरोना वारियर का किया गया सम्मान, जवानों में छिपी प्रतिभा को सामने लाने देशभक्ति गीत प्रतियोगिता



भूपेंद्र साहू

धमतरी। छत्तीसगढ़ राज्य के पारंपरिक त्यौहार पोला तिहार के उपलक्ष्य में पुलिस कप्तान बीपी राजभानू एवं एएसपी मनीषा ठाकुर ने पुलिस अधिकारी व कर्मचारियों के साथ पोला त्यौहार मनाया गया। सर्वप्रथम पोला त्यौहार के मद्देनजर मिट्टी से बने बैलों की दौड़ का आयोजन किया गया, जिसमें पुलिस अधिकारी व कर्मचारी अपने सधे हुए हाथों से बैलों को दौड़ाते हुए नजर आए जिससे बचपने की प्रतिस्पर्धा को देखकर वातावरण अविरल हंसी ठहाको से गूंज गया। 


पारंपरिक रूप से पूजा अर्चना के बाद रंग-बिरंगे सजे हुए मिट्टी के नांदिया बैला को सहायक आरक्षको द्वारा दौड़ाया गया । पारंपरिक खेल को देखकर वहां उपस्थित सभी कर्मचारियों को उनका बचपन याद आ गया। निरीक्षण प्रणाली वैद्य, गगन बाजपेई, भावेश गौतम, उमेंद टंडन, बिपिन लकडा, कोमल नेताम, युगल नाग ने भी दौड़ में हिस्सा लिया। जिसमे गगन बाजपेई प्रथम स्थान प्राप्त किये।



 कार्यक्रम के अगले चरण में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ने कोरोना काल लॉकडाउन के दौरान सहायक आरक्षकों से लेकर सभी पुलिस अधिकारियों व कर्मचारियों द्वारा किए गए कार्यों को प्रोजेक्टर के माध्यम से सबके सामने रखा गया।


पुलिस अधीक्षक ने पोला तिहार की बधाई देते हुए कहा कि यदि हर कड़ी अपना काम सही ढंग से करें तो विकट से विकट परिस्थिति का सामना आसानी से किया जा सकता है। इसी का परिणाम है कि धमतरी पुलिस ने अपना श्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए समाज में स्वच्छ व सराहनीय छवि निर्मित की। यह सफलता मेरी नहीं अपितु आप सबकी कड़ी मेहनत व लगन की है,इसलिए आप सभी हर्ष व सहनशीलता से आने वाली परेशानियों का डटकर सामना करें, सफलता जरूर मिलेगी। तत्पश्चात राज्य स्तरीय पुरस्कार से पुरस्कृत किए गए निरीक्षक दिनेश कुर्रे एवं प्रधान आरक्षक दिलहरण सिंह ठाकुर को सम्मानित किया गया। इसी कड़ी में कोरोना संक्रमण काल में इकाई के प्रत्येक थाना व चौकी में उत्कृष्ट कार्य करने वाले अधिकारी व कर्मचारियों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।


       इस दौरान पुलिस अधिकारी व कर्मचारियों में छिपी हुई प्रतिभा को दिखाने का अवसर देते हुए देशभक्ति गीत-संगीत का आयोजन किया गया, जिसमें इच्छुक प्रतिभागियों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। इसकी शुरुआत वायरलेस शाखा में पदस्थ महिला आरक्षक रामेश्वरी साहू ने ए मेरे वतन के लोगों देशभक्ति गीत गाकर की, फिर बारी-बारी से सभी प्रतिभागियों ने अपनी-अपनी प्रस्तुति दी। जिसमें देशभक्ति गीत गायन में रक्षित निरीक्षक के देवराजू, निरीक्षक गगन वाजपेई, प्रणाली वैद्य, अरुण उईके, सूबेदार (स्टेनो) अखिलेश शुक्ला, सूबेदार रेवती वर्मा, उपनिरीक्षक शांता लकड़ा, सहायक उपनिरीक्षक प्रेम प्रसाद उपाध्याय, प्रधान आरक्षक दिनेश सोनकर, आरक्षक रामाधार कोर्राम, विनोद राय, विजय शर्मा, डीगेश शर्मा, तिजेंद्र साहू, प्रमोद साहू, नागेंद्र पांडेय, संदीप पांडेय चेतन साहू, कुलदीप सिंह, महिला आरक्षक मोहनी गोस्वामी, तनुजा कंवर, सोनिया सोनबेर ने अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाते हुए खूब तालियां बटोरी। आरक्षक सुजय मंडल ने एक प्रशिक्षित योग गुरु की भांति योग के विभिन्न आसनों का प्रदर्शन किया।

   इसी क्रम में नन्हे बाल कलाकार मैथली रावटे, गुणज्ञ वैद्य एवं पल्लवी कतलम ने समूह नृत्य की मनमोहक प्रस्तुति दी।


      कार्यक्रम में एसपी बीपी राजभानु,एएसपी मनीषा ठाकुर, डीएसपी अरुण जोशी, सारिका वैद्य, एसडीओपी नगरी नीतिश ठाकुर, रक्षित निरीक्षक,सभी थाना व चौकी के प्रभारी, पुलिस कार्यालय के अधिकारी व कर्मचारी मौजूद थे।कार्यक्रम का आभार प्रदर्शन उप पुलिस अधीक्षक अजाक  सारिका वैद्य व मंच संचालन सूबेदार (स्टेनो) अखिलेश शुक्ला ने किया।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने